18 सप्ताह – ‘ऐनॉमली’ या ‘ थ्री डायमेंशनल टार्गेट’ स्केन नामक विशिष्ट सोनोग्रॉफी करवाना होगा। 18 weeks – Be prepared for Anamoly (Target) Scan!

18 सप्ताह – ‘ऐनॉमली’ या ‘ थ्री डायमेंशनल टार्गेट’ स्केन नामक विशिष्ट सोनोग्रॉफी करवाना होगा। 18 weeks – Be prepared for Anamoly (Target) Scan!

18 weeks2

Read in English
आपका शिशु अभी लगभग 14 से 16 सें.मी. लंबा और 200 ग्राम वजनी होगा।

उसके कान अपने निर्धारित स्थान ग्रहण कर चुके होंगें। उसकी भौंहें और पलकें विकसित हो रही होंगी। वह अपनी बंद आँखों को मटकाने की कोशिशों में मस्त

शिशु की चमड़ी के निम्न स्तर पर वसे की मोटी परत विकसित होना प्रारंभ हो रही है। इसका उद्देश्य शिशु के तापमान को नियंत्रित करना और जन्मोपरांत उर्जा प्रदान करना होता है।

अगर भ्रूण लड़की है तो उसकी योनीमार्ग और गर्भाशय तीव्रता से विकसित हो रहे होंगें।

भ्रूण के लड़का होने की अवस्था में उसकी प्रोस्टेट ग्रंथी विकसित हो रही होगी।

आपके चिकित्सक आपको 18 से 22 वे सप्ताह की गर्भावधि के मध्य ‘ऐनॉमली’ या ‘ थ्री डायमेंशनल टार्गेट’ स्केन नामक विशिष्ट सोनोग्रॉफी करवाने का निर्देश देंगें। इसका मूल उद्देश्य शिशु के प्रत्येक अंगों का गहन अध्ययन कर संभव विकृतियों को पहचानना होता है।

इस सोनोग्रॉफी को जब शिशु की वास्तविक चलायमान अवस्था में आंका जाए तो उसे फोर डॉयमेंशनल स्केन के नाम से भी जाना जाता है।

सूचना-

उक्त जानकारियाँ साझा करने का मूल मकसद आपके और शिशु के मध्य वात्सल्य प्रेमबंध विकसित करना है। ये जानकारियाँ वैज्ञानिक दस्तावेज़ों से प्राप्त की गई हैं। किंतु, प्रत्येक शिशु का विकास भिन्न गति से हो सकता है।



18 weeks – Be prepared for Anamoly (Target) Scan!

Your baby measures around 14-16 cms from crown to rump and weigh about 200 grams.

The ears have acquired final position and project out from the head.

Her eyebrows and eyelashes are growing.

The subcutaneous fat begins to deposit. It would not only provide thermal insulation to the baby regulating its body temperature. But, also acts as store house for energy.

In girl child the vagina and uterus begin to take its shape and in case of male child, the penis is distinctly more visible and prostate is forming.

You would be advised to undergo the most important ultra-sonography, popularly known as ‘Target Scan’ or ‘Anomaly Scan’ between 18 to 22 weeks to detect any structural or chromosomal abnormalities in the baby. All the organs are individually screened in detail.

The real time Target scan is also called as 4-D Scan.

Disclaimer-

The purpose to share this information is to sensitize you to enhance the bondage between you & baby. This broad information is purely based on the scientific data collected. However, every child may grow at a variable pace.