31 सप्ताह – ऐम्नियोटिक द्रव्य की मात्रा में कमी आना। (31weeks – Amniotic fluid begin to decreases)

31 सप्ताह – ऐम्नियोटिक द्रव्य की मात्रा में कमी आना। (31weeks – Amniotic fluid begin to decreases)

31 weeks

Read in English
आपका शिशु अभी लगभग 40-41 सें.मी. लंबा और 1300-1500 ग्राम वजनी होगा।

वह निरंतर शारीरिक विकास और मूल क्रियात्मक कौशल प्राप्त करने में व्यस्त है जिससे वह जन्मोंपरांत सफलता पूर्वक स्वतंत्र जीवन व्यतीत कर सके।

गर्भाकालीन विकास के साथ ही उसके गुर्दे (किडनियाँ) भी परिपक्व हो रही है। जिसके नतीजन वे अब रक्त में उपस्थित अपशिष्टों का उत्सर्जन कम मात्रा की अधिक घनी मूत्र के माध्यम से करने में सक्षम हैं। चूंकि, ऐम्नियोटिक द्रव्य का उत्पादन मुख्यतः शिशु की मूत्र से ही होता है, 30 सप्ताह की गर्भावधी के पश्चात् ऐम्नियोटिक द्रव्य की मात्रा में भी कमी आती है। द्रव्य कम होने से उपलब्ध रिक्त स्थान की अल्पता के कारण शिशु की स्वछंद हलचल सीमित रह जाती है।

प्रकृति ने संभवतः यह अधिनियम जहाँ एक ओर शिशु का आकार बढ़ता है और ऐम्नियोटिक द्रव्य की मात्रा कम होती है इसलिए रचित की होगी जिससे-

  • माँ को विकासशील गर्भाश्य के अत्याधिक खिंचाव के कारण असुविधा का अनुभव ना हो।
  • शिशु सामान्य योनी प्रसव हेतु अनुकूल लंबवत मस्तिष्क प्रस्तुति स्थिररूप से ग्रहण कर सके।
  • ऐम्नियोटिक द्रव्य की अल्पता और गर्भाशय के ब्रेक्टन-हिक्स संकुचन संयुक्त रुप से प्रसव की संभावित तारीख के समीप शिशु के श्रोणी-गुहा में प्रवेश करने में अहम भूमिका निभाते हैं।

संज्ञान रहे कि आपको पर्याप्त पानी पीना है। अन्यथा पानी की अल्पता के कारण आपका रक्त अधिक गाढ़ा होने से शिशु को रक्तापूर्ती प्रभावित हो सकती है। जिसके परिणामस्वरूप शिशु कम मूत्र का निर्माण करेगा और उसके चारों ओर स्थित ऐम्नियोटिक द्रव्य में गंभीर कमी आ सकती है (ओलिगोहॉयड्रेम्नियोस)।

maternal dehydration

उसका सिर, शरीर, हाथ, पैर और अन्य सभी अंदरूनी अंग निरंतर विकसित हो रहे हैं।

अस्थिमज्झा में लाल रक्त कोशिकाओं का निर्माण अब पर्याप्त मात्रा में जारी है।

वह प्रकाश और अंधेरे में भेद करने में सक्षम है, किंतु उसकी सक्रीय रहने और सोने की समयावली आपसे बिलकुल विपरीत होगी।

वह अब मधुर संगीत और कर्कश ध्वनियों के प्रति भिन्न प्रतिक्रिया देने में सक्षम है। उससे बातें करें, मधुर संगीत श्रवण करें और ज्ञानवर्धक साहित्य बांचें।

सूचना-

उक्त जानकारियाँ साझा करने का मूल मकसद आपके और शिशु के मध्य वात्सल्य प्रेमबंध विकसित करना है। ये जानकारियाँ वैज्ञानिक दस्तावेज़ों से प्राप्त की गई हैं। किंतु, प्रत्येक शिशु का विकास भिन्न गति से हो सकता है।



31weeks – The amniotic fluid begin to decreases.

Your baby may measure 40-41 cms and weigh 1300-1500 grams.

The baby continues to grow big and mature both in size and functionality acquiring skills to help him survive independently in outside world.

With the advancing Gestational age as the baby’s kidneys are maturing, they are efficiently able to excrete wastes in lesser but concentrated urine. Consequently the amniotic fluid that is mainly the baby’s urine decreases with the gestational age after 30 weeks.

So, the baby grows in size, but the amount of surrounding amniotic fluid decreases. As a result of reduced free space, the baby may not be able to move as freely as before and hence you may also not perceive the fetal movements as strong.

The Nature might have designed appropriate reduction in amniotic fluid volume so that-

  • Mother does not experience undue pressure over her abdomen due to over distension.
  • The baby position gets stable in longitudinal lie and cephalic presentation that is favorable for normal vaginal delivery.
  • The reduced volume of amniotic fluid along with Braxton hicks contractions help the baby to descend as the expected date of delivery approaches.

But kindly drink plenty of water, as dehydration and concentrated blood may hamper with sufficient blood supply to baby resulting in abnormally reduced urine production by him and subsequently pathologically low amniotic fluid volume called as Oligohydramnios.

How maternal dehydration may cause Oligohydramnios

The head, body, arms, legs and all organs are growing proportionately.

The bone marrow continues to produce Red blood cells adequately.

They can differentiate the light and dark now, but their sleep-wake cycle is all opposite to that of yours.

The baby may respond to melodious music or harsh sounds differently.

Talk to him, listen light melodies and read good literature.

Disclaimer-

The purpose to share this information is to sensitize you to enhance the bondage between you & baby. This broad information is purely based on the scientific data collected. However, every child may grow at a variable pace.